उच्च रक्तचाप को नियंत्रित करने के 7 घरेलू उपाय | High Blood Pressure Home Remedies

High Blood Pressure Home Remedies: ब्लड प्रेशर के मरीजों की संख्या तेजी से बढ़ रही है। फास्ट लाइफ, फास्ट फूड और अनियमित दिनचर्या के कारण यह बीमारी हर उम्र के लोगों में पाई जा रही है।

हालांकि, ब्लड प्रेशर की बीमारी काफी साधारण लगती है। अगर समय पर इसका इलाज न किया जाए तो यह दिल का दौरा, Brain hemorrhage और Kidney disease का कारण भी बन सकता है।

इस लेख में हम उच्च रक्तचाप को नियंत्रित करने के कुछ घरेलू उपायों के बारे में बताने जा रहे हैं, जिनकी मदद से आप अपने उच्च रक्तचाप को जल्दी और आसानी से नियंत्रित कर सकते हैं।

उच्च रक्तचाप | High Blood Pressure in Hindi

हमारा दिल रक्त को रक्त वाहिकाओं तक ले जाने में मदद करता है। यह रक्त को इतनी ताकत से स्थानांतरित करता है ताकि यह पूरे शरीर में फैल सके। इसी दबाव को हम रक्तचाप कहते हैं।

यदि हृदय पर बहुत अधिक दबाव पड़ता है, तो यह रक्त को और अधिक जोर से धकेलता है। चिकित्सा भाषा में हम इसे उच्च रक्तचाप (High Blood Pressure) कहते हैं। इसे साइलेंट किलर के नाम से भी जाना जाता है।

बहुत से लोगों को हाई ब्लड प्रेशर होता है, लेकिन उन्हें इसका पता भी नहीं चलता। लो ब्लड प्रेशर और हाई ब्लड प्रेशर दोनों ही हमारे शरीर के लिए हानिकारक होते हैं।

उच्च रक्तचाप के कारण | High Blood Pressure Causes in Hindi

उच्च रक्तचाप के 90% मामलों में रक्तचाप का पता नहीं चलता है। उच्च रक्तचाप के कारणों की सटीक व्याख्या करना मुश्किल है।

आइए जानते हैं ब्लड प्रेशर के क्या कारण हो सकते हैं।

  • जेनेटिक
  • बढ़ती उम्र
  • मोटापा
  • उच्च सोडियम
  • उच्च शराब की खपत
  • शारीरिक गतिविधि की कमी

उच्च रक्तचाप का उपचार | High Blood Pressure Treatment in Hindi

उच्च रक्तचाप का इलाज करने के लिए सबसे पहले आपको इसके कारणों का पता लगाना होगा और उन्हें रोकना होगा।

अगर आपको मोटापे की वजह से हाई ब्लड प्रेशर है तो मोटापा कम करने की कोशिश करें।

Read More:  मासिक धर्म (पीरियड्स) क्या है? | What is Period in Hindi?

कई शोधों में यह बात सामने आई है कि रोजाना 30 मिनट की शारीरिक गतिविधि आपके रक्तचाप की बीमारी को ठीक कर सकती है। साथ ही, आपको इसकी नियमित जांच करानी चाहिए और जल्दी इलाज शुरू करना चाहिए।

आपको अपने सोडियम सेवन को नियंत्रित करना चाहिए। ब्लड प्रेशर को कम करने के लिए आपको जंक फूड का सेवन बंद करना होगा।

रक्तचाप को कैसे नियंत्रित करें? | How to Control Blood Pressure?

यहां हम 3 ऐसे टिप्स के बारे में जानकारी दे रहे हैं जो ब्लड प्रेशर के हर मरीज को हमेशा ध्यान में रखना चाहिए।

1. लिफ्ट की जगह सीढ़ियों का इस्तेमाल करें (Use the stairs instead of the lift)

शरीर और दिल को स्वस्थ रखने के लिए रोजाना व्यायाम करना अच्छा होता है। अगर आप ऑफिस में काम कर रहे हैं तो कोशिश करें कि ऑफिस लिफ्ट का इस्तेमाल करने की बजाय सीढ़ियों का इस्तेमाल करें।

2. क्रोध पर नियंत्रण रखें (Control anger)

गुस्सा हमारे शरीर के लिए घातक हो सकता है। आपको वह सब कुछ करना चाहिए जिसमें क्रोध को हराने की क्षमता हो। आप ध्यान और योग का भी सहारा ले सकते हैं। क्रोध रक्तचाप और तनाव को बढ़ाता है। 90% हार्ट अटैक इसी तनाव के कारण होते हैं।

3. मादक द्रव्यों का सेवन बंद करें (Stop use of substance abuse)

मादक द्रव्यों के सेवन से रक्तचाप में वृद्धि होती है, जिससे वजन बढ़ने और दिल का दौरा पड़ने की संभावना बढ़ जाती है। इसलिए ब्लड प्रेशर की बीमारी से बचने के लिए नशीले पदार्थों का सेवन पूरी तरह से बंद कर देना चाहिए।

उच्च रक्तचाप के लिए 7 घरेलू उपचार | 7 Home Remedies for High Blood Pressure

7 Home Remedies for High Blood Pressure

आइए अब बात करते हैं कि उच्च रक्तचाप को कैसे नियंत्रित किया जाए। इसके लिए मैं आपको 7 घरेलू नुस्खे बता रहा हूं, जिन्हें अपनाकर आप हाई ब्लड प्रेशर को तुरंत कंट्रोल कर सकते हैं।

आजकल लोगों के रहन-सहन का तरीका काफी बदल गया है। मशीनों पर बढ़ती निर्भरता ने निस्संदेह हमारे जीवन को आसान बना दिया है, लेकिन इसने हमें उच्च रक्तचाप जैसी कई बीमारियां भी दी हैं।

उच्च रक्तचाप का रोग मामूली लग सकता है, लेकिन यह दिल के दौरे और अन्य हृदय रोगों का एक प्रमुख कारण है। ऐसे में हाई ब्लड प्रेशर को नियंत्रित रखना चाहिए।

आइए जानते हैं कुछ घरेलू नुस्खे जो आपके ब्लड प्रेशर को संतुलित और नियंत्रित रखने में मदद कर सकते हैं।

1. ज्यादा नमक का सेवन करने से बचें (Avoid eating too much salt)

ज्यादा नमक का सेवन करने से ब्लड प्रेशर बढ़ जाता है। इसलिए हाई ब्लड प्रेशर वाले लोगों को नमक का सेवन कम कर देना चाहिए।

Read More:  अस्थमा (दमा) क्या है? कारण, लक्षण और उपचार | Asthma in Hindi

द ब्रिटिश मेडिकल जर्नल में प्रकाशित एक अध्ययन के अनुसार, अपने आहार में नमक की मात्रा कम करने से रक्तचाप को कम रखने, हृदय रोग और दिल के दौरे को रोकने में मदद मिल सकती है।

2. शहद और आंवला जूस (Honey and Amla juice)

हाई ब्लड प्रेशर की समस्या को कंट्रोल करने में शहद और आंवला का जूस काफी कारगर होता है।

इंडियन जर्नल ऑफ फार्माकोलॉजी में प्रकाशित 2015 के एक अध्ययन में कहा गया है कि भारतीय आंवले में एंटीऑक्सिडेंट गुणों के साथ-साथ अन्य महत्वपूर्ण गुण जैसे एंटीडायबिटिक, एंटी-इंफ्लेमेटरी और एंटीकैंसर गुण होते हैं।

एक चम्मच आंवले का रस और उतनी ही मात्रा में शहद मिलाकर दिन में दो बार लेने से उच्च रक्तचाप में आराम मिलता है। अगर आपको भी यह समस्या है तो आज से ही आंवला और शहद का सेवन शुरू कर दें।

3. तरबूज और पोस्ता के बीज (Watermelon and Poppy seeds)

तरबूज और खसखस ​​भी ब्लड प्रेशर से राहत दिलाने में मददगार होते हैं।

इसके इस्तेमाल के लिए सबसे पहले तरबूज के बीज और खसखस ​​को अलग-अलग पीसकर बराबर मात्रा में मिला लें। इस मिश्रण का एक चम्मच रोजाना सुबह लें। ऐसा करने से आपकी ब्लड प्रेशर की समस्या कुछ ही समय में खत्म हो जाएगी।

4. नींबू का रस (Lemon juice)

हाई ब्लड प्रेशर में नींबू पानी बहुत फायदेमंद होता है। जो लोग उच्च रक्तचाप से पीड़ित हैं, उन्हें सुबह खाली पेट 1 गिलास गुनगुने पानी में 1/2 नींबू निचोड़ कर पीना चाहिए या दोपहर के भोजन के बाद 1 गिलास नींबू पानी पीना चाहिए। ऐसा करने से आपकी परेशानी आपसे बहुत दूर हो जाएगी।

5. लहसुन (Garlic)

लहसुन नाइट्रिक ऑक्साइड और हाइड्रोजन सल्फाइड को बढ़ाकर रक्त वाहिकाओं को आराम देने में मदद करता है। यह रक्त में थक्का जमने नहीं देता और कोलेस्ट्रॉल को भी नियंत्रित करता है जिससे शरीर में रक्तचाप की समस्या नहीं होती है। इसलिए आपको अपने खाने में लहसुन का ज्यादा से ज्यादा इस्तेमाल करना चाहिए।

6. केला (Banana)

केले में भरपूर मात्रा में पोटैशियम होता है, जो हमारे शरीर में सोडियम के प्रभाव को कम करता है। इसके अलावा, यह उच्च रक्तचाप को नियंत्रित करने में मदद करता है। इसलिए हाई ब्लड प्रेशर वाले लोगों को रोजाना 1 या 2 केले जरूर खाने चाहिए।

7. नारियल पानी (Coconut water)

उच्च रक्तचाप के स्तर को कम करने में नारियल पानी बेहद मददगार होता है। यह सिस्टोलिक दिल की विफलता को कम करने में भी मदद करता है। इसलिए दिन में एक बार नारियल पानी जरूर पीना चाहिए। खाली पेट नारियल पानी पीने से अधिक लाभ मिलता है।

Read More:  हर्निया के लक्षण, प्रकार, कारण, इलाज | Hernia in Hindi

उच्च रक्तचाप के लक्षण | High Blood Pressure Symptoms in Hindi

उच्च रक्तचाप के कोई लक्षण नहीं होते और इसे साइलेंट किलर कहा जाता है। जब यह तेजी से बढ़ता है तो रोगी को इसके बारे में पता चलता है।

उच्च रक्तचाप के दौरान निम्न लक्षण दिखाई देते हैं जैसे:

  • सिरदर्द
  • चक्कर आना
  • धुंधली दृष्टि
  • उलटी करना
  • सीने में दर्द

निम्न रक्तचाप के घरेलू उपचार | Home Remedies for Low Blood Pressure

यहां हम 4 ऐसे घरेलू उपचारों के बारे में बात करने जा रहे हैं जो निम्न रक्तचाप को नियंत्रित करने में आपकी मदद कर सकते हैं।

1. शकरकंद (Sweet potato)

शकरकंद लो ब्लड प्रेशर के लिए बहुत अच्छा माना जाता है। लो ब्लड प्रेशर को कंट्रोल करने के लिए 1 कप शकरकंद का जूस दिन में दो बार पीना चाहिए।

2. तुलसी के पत्ते (Basil leaves)

जिन लोगों को लो ब्लड प्रेशर की समस्या है उन्हें तुलसी के 10 से 15 पत्ते खाने चाहिए। इसके लिए तुलसी के पत्तों को पीसकर उसका रस निकाल लें। इसमें 1 चम्मच शहद मिलाकर खाली पेट सेवन करें। यह लो ब्लड प्रेशर में बहुत फायदेमंद होता है।

3. बादाम (Almond)

7 से 8 बादाम रात को भिगो दें। सुबह इसका छिलका उतारकर कुछ देर दूध में उबालकर पीएं। यह लो ब्लड प्रेशर को कंट्रोल करने में बहुत फायदेमंद होता है।

4. कॉफ़ी (Coffee)

कॉफी में कैफीन की मात्रा अधिक होती है जो निम्न रक्तचाप को तेजी से बढ़ाने में मदद करती है। इसलिए लो ब्लड प्रेशर के मरीजों के लिए कॉफी काफी फायदेमंद साबित होती है।

References

  • Grillo, A., Salvi, L., Coruzzi, P., Salvi, P., & Parati, G. (2019). Sodium Intake and Hypertension. Nutrients, 11(9), 1970. https://doi.org/10.3390/nu11091970
  • Gopa, B., Bhatt, J., & Hemavathi, K. G. (2012). A comparative clinical study of hypolipidemic efficacy of Amla (Emblica officinalis) with 3-hydroxy-3-methylglutaryl-coenzyme-A reductase inhibitor simvastatin. Indian journal of pharmacology, 44(2), 238–242. https://doi.org/10.4103/0253-7613.93857
  • Ried, K., Frank, O.R., Stocks, N.P. et al. Effect of garlic on blood pressure: A systematic review and meta-analysis. BMC Cardiovasc Disord 8, 13 (2008). https://doi.org/10.1186/1471-2261-8-13
  • Lee-Bravatti, M. A., Wang, J., Avendano, E. E., King, L., Johnson, E. J., & Raman, G. (2019). Almond Consumption and Risk Factors for Cardiovascular Disease: A Systematic Review and Meta-analysis of Randomized Controlled Trials. Advances in nutrition (Bethesda, Md.), 10(6), 1076–1088. https://doi.org/10.1093/advances/nmz043

Leave a Comment